ब्रेकिंग न्यूज़

  द लेडी इन व्हाइट सिमी ग्रेवाल 74 साल की हुईं ....नवाब पटौदी से होते- होते रह गई शादी
बॉलीवुड की पुरानी खूबसूरत अभिनेत्रियों में शुमार सिमी ग्रेवाल आज 74 साल की हो गई हैं। आज भी उन्हें देखकर उनकी उम्र का अंदाजा लगा पाना मुश्किल होता है। उनका जन्म 17 अक्टूबर 1947 को पंजाब के लुधियाना में हुआ था। सिमी इंडस्ट्री में एक्टिंग के साथ साथ बतौर डायरेक्टर, प्रोड्यूसर और टॉक शो होस्ट के रूप में काम किया और लोकप्रियता हासिल की। उन्हें आज भी लोग द लेडी इन व्हाइट   कहते हैं, क्योंकि वे अक्सर सफेद परिधान में नजर आती हैं।
  सिमी ग्रेवाल के पिता जे.एस.ग्रेवाल भारतीय सेना में ब्रिगेडियर के पद पर काबिज रहे थे। सिमी की चचेरी बहन पामेला चोपड़ा, निर्माता-निर्देशक यश चोपड़ा की पत्नी हैं। सिमी इंग्लैंड में पली बढ़ीं और वहीं से उन्होंने शिक्षा हासिल की थी। उनके फिल्मी करियर की शुरुआत साल 1962 में आई फिल्म राज की बात से शुरू हुई। जहां उन्होंने कमल का किरदार निभाया। इसी साल उन्होंने सन ऑफ इंडिया नाम की फिल्म में ललिता का किरदार निभाया था। फिर इस साल आई फिल्म टार्जन गोज़ टू इंडिया में उन्होंने प्रिसेस कमरा का किरदार निभाया। ऐसा कहा जाता है कि उनकी शानदार अंग्रेजी के कारण उन्हें टार्जन फिल्म में काम करने का मौका मिला था। राजकपूर ने उन्हें मेरा नाम जोकर में लिया। 
 उन्होंने कई हिट फिल्म जैसे दो बदन, नाम मेरा जोकर, सिद्धार्थ, कर्ज और साथी जैसी मशहूर फिल्मों में भी काम किया है। अपनी इस शानदार अदाकारी के लिए उन्होंने 2 बार फिल्म फेयर अवॉर्ड से नवाजा गया है। उन्होंने हिंदी के साथ साथ दूसरी भाषाओं जैसी बंगाली सिनेमा में काम किया है। हमेशा खूबसूरत दिखने वाली सिमी की निजी जिंदगी इतनी खूबसूरत नहीं रही है। दो बार प्यार के बाद उन्होंने शादी की, लेकिन वो भी ज्यादा लंबे वक्त तक नहीं चल सकी। 
कहते हैं कि सिमी ग्रेवाल को  17 साल की उम्र से पहली बार प्यार का अहसास हुआ। उन्हें जामनगर के महाराज से प्यार हुआ था। एक मैगजीन को इंटरव्यू देते हुए उन्होंने बताया कि उन्होंने 3 साल तक एक दूसरे को डेट किया था। जामनगर के महाराज लंदन में उनके पड़ोसी भी हुआ करते थे। सिमी का कहना था कि इस दौरान महाराज ने उन्हें जिंदगी के दूसरे पहलु को दिखाया, लेकिन ये रिश्ता ज्यादा लंबा नहीं चल सका और दोनों ने अपनी राहें अलग कर लीं।
 सिमी ग्रेवाल का दूसरा रिश्ता मशहूर क्रिकेटर मंसूर अली खान पटौदी से हुआ। दोनों की लव स्टोरी के चर्चे क्रिकेट और बॉलीवुड इंडस्ट्री तक होने लगे थे।   सार्वजनिक मंचों के अलावा वे फिल्मों की आउटडोर शूटिंग्स तक साथ दिखाई देते थे। दोनों एक दूसरे को लेकर काफी सीरियस थे और शादी करना चाहते थे। ऐसा कहा जाता है कि मंसूर अली खान, सिमी को अपने माता-पिता से भी मिलवाना चाहते थे लेकिन इस बीच उनकी मुलाकात शर्मिला टैगोर से हुई और उन्होंने सिमी से शादी करने का अपना फैसला बदल दिया।  
 मंसूर अली खान से अलग होने के बाद सिमी ग्रेवाल ने दिल्ली के चुन्नामल घराने के रवि मोहन संग शादी कर ली थी। लेकिन ये शादी 3 साल से ज्यादा वक्त तक नहीं चल सकी। दोनों रजामंदी के साथ अलग हो गए। लेकिन दोनों के बीच कानूनी रूप से शादी 10 साल बाद तक चली। जब तक कि उनका कानूनी रूप से तलाक नहीं हो गया। सिमी कहती हैं कि रवि बेहद अच्छे इंसान थे। हम दोनों एक दूसरे के प्रति वफादार थे। सिमी के मुताबिक हम दोनों को एक दूसरे लिए नहीं बनाया गया था। सिमी आज भी रवि के परिवार के काफी करीब हैं। 
सिमी ने राज कपूर, सत्यजीत रे, मृणाल सेन और राज खोंसला जैसे बड़े निर्देशकों के साथ काम किया। 1999 में "रेन्डेज़वस विथ सिमी ग्रेवाल" के इस रियलिटी शो में उन्होंने बेनज़ीर भुट्टो, रेखा, रतन टाटा, अम्बानी और बच्चन जैसी हस्तियों का इंटरव्यू लेकर बहुत ख्याति बटोरी और छोटे परदे का सबसे चमकता सितारा बन गयी। 1988 में फिल्म रुखसत में उन्होंने आखिरी बार काम किया था और तब से वे फिल्मों से दूर हैं।  
----

Related Post

Leave A Comment

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).