ब्रेकिंग न्यूज़

 होम आइसोलशन में रहते हुए भी कर्तव्य पथ पर डटे हुए हैं फ्रंट लाइन वर्कर खजांची कुम्हार
बिलासपुर । कोविड महामारी के इस भीषण दौर में फ्रंटलाइन वर्कर लगातार योद्धाओं की भांति कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिये जंग लड़ रहे हैं। नगर निगम बिलासपुर के उपायुक्त   खजांची कुम्हार इसकी एक मिसाल हैं जो स्वयं संक्रमित हैं लेकिन होम आइसोलेशन में रहते हुए अपने कर्तव्य पथ पर डटे हुए हैं। 
श्री कुम्हार ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चलते बिलासपुर में नगर-निगम के अधिकारियों, कर्मचारियों का दायित्व बढ़ गया है। वे बिना समय देखे दिन-रात काम कर रहे हैं। 
श्री कुम्हार कोरोना संक्रमण रोकने के लिये सैनेटाइजेशन के साथ होम आइसोलेशन और मेडिकल हॉस्पिटल के कोविड मरीजों के गार्बेज संग्रहण का काम देखते हैं, साथ ही कोरोना से होने वाली मृत व्यक्तियों की कोविड नियमों का पालन करते हुए अंत्येष्टि भी कराने का महती दायित्व भी उनके ऊपर है। उन्होंने बताया कि इस कार्य में कई बार मुक्तिधाम भी जाना पड़ता है जिसके चलते वे संक्रमण का शिकार हो गये। सर्दी-खांसी होने पर उन्होंने अपना एंटीजन और आरटीपीसीआर टेस्ट कराया जिसमें वे पॉजिटिव पाये गये। श्री कुम्हार विगत 12 दिन से होम आइसोलेशन में रहकर अपना उपचार करा रहे हैं लेकिन इस दौरान भी वे अपना कर्तव्य नहीं भूले हैं और टेलीफोन के माध्यम से लगातार अपने अधीनस्थों को उनके दायित्वों के सम्बन्ध में दिशा-निर्देश देते रहते हैं। 
श्री कुम्हार ने बताया कि जरूरतमंद लोगों को नगर-निगम द्वारा भोजन के पैकेट एनजीओ के माध्यम से प्रदान किये जा रहे हैं। नया बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, उसलापुर स्टेशन, सिम्स अस्पताल में भर्ती मरीजों के परिजन, जिनके लिये भोजन की व्यवस्था नहीं है तथा भारतमाता स्कूल के पास झुग्गी झोपड़ियों में रहने वालों के लिये भोजन के पैकेट पहुंचाने का महती दायित्व निभा रहे हैं। जिसके लिये वे अपने स्वास्थ्य की परवाह किये बगैर दिन भर व्यस्त रहते हैं। कुम्हार ने बताया कि बहुत सावधानी रखने के बावजूद वे संक्रमित हो गये। वे जानते हैं कि उनका दायित्व ऐसा है कि वे कभी भी कोरोना से संक्रमित हो सकते हैं इसलिये उन्होंने अपने को परिवार से अलग रखा है जिससे वे सुरक्षित रह सकें। 
श्री कुम्हार का कहना है कि महामारी के इस दौर में यह समय नहीं है कि अपने बारे में सोचें। अपना कर्तव्य उन्हें सबसे पहले दिखाई दे रहा है। जहां भी जो आवश्यकता दिखाई पड़ रही है उसे पूरा करने के लिये वे तत्पर रहते हैं। श्री कुम्हार ने लोगों से अपील की कि सभी लॉकडाउन व कोरोना गाइडलाइन का पालन करें। हमें इसे हल्के में नहीं लेना है। जब तक संक्रमण का चेन नहीं टूटता तब तक पूरी सावधानी बरतने की जरूरत है। 

Related Post

Leave A Comment

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).