ब्रेकिंग न्यूज़

भिलाई निगम ने स्वच्छता में मारी बाजी, भिलाई शहर चौथी बार हुआ ओडीएफ प्लस प्लस घोषित

महापौर नीरज पाल ने स्वच्छ सर्वेक्षण की प्रतियोगिता में भिलाई शहर को नंबर 1 बनाने की अपील की
भिलाईनगर/ केंद्रीय सर्वेक्षण टीम की रिपोर्ट पर भिलाई को ओडीएफ प्लस प्लस होने की घोषणा की पुष्टि की गई है। महापौर नीरज पाल, निगम आयुक्त लोकेश चंद्राकर तथा तत्कालीन आयुक्त प्रकाश सर्वे के कुशल नेतृत्व में भिलाई ने एक पड़ाव पार कर लिया हैं। अक्टुबर 2014 से भारत सरकार द्वारा प्रारम्भ किए गए स्वच्छ भारत मिशन के तहत् निगम भिलाई, भारत सरकार द्वारा आयोजित स्वच्छता प्रतियोगिता में प्रतिभागी रहकर पुरे देश में अपना अहम स्थान बनाता रहा है। नगर निगम भिलाई चौथी बार ओडीएफ प्लस प्लस घोषित हुआ है। खुले में शौच मुक्त के लिए भिलाई निगम ने वर्ष 2014-15 से निजी शौचालय निर्माण का कार्य प्रारंभ किया था उस दौरान तकरीबन 17929 निजी शौचालय तैयार किए गए। वर्ष 2017 में पहली बार भिलाई निगम ओडीएफ घोषित हुआ, जुलाई 2018 में पुन: ओडीएफ का दर्जा प्राप्त हुआ, 26 दिसंबर 2018 में पहली बार ओडीएफ प्लस प्लस हासिल हुआ, दूसरी बार 25 नवंबर 2019 को ओडीएफ प्लस प्लस मिला, तीसरी बार फरवरी 2021 में ओडीएफ प्लस प्लस मिला और अब चौथी बार भिलाई निगम ओडीएफ प्लस प्लस घोषित हुआ है। विधायक एवं निगम के पूर्व महापौर देवेंद्र यादव के नेतृत्व में भिलाई निगम ने कई उपलब्धियां स्वच्छ सर्वेक्षण में हासिल की थी। महापौर परिषद के सदस्य एवं स्वच्छता प्रभारी लक्ष्मीपति राजू के विभाग के प्रभारी रहते हुए स्वच्छता के पायदान में निगम ने कई अवार्ड हासिल किए हैं, स्वास्थ्य प्रभारी ने शहरवासियों से भिलाई को नंबर वन बनाने की अपील की है।  स्वच्छ सर्वेक्षण की प्रतियोगिता में नाली में जाली, सफाई कार्य, सिटीजन फीडबैक, बल्क वेज जनरेटर, पार्क कंपोस्टिंग, वॉल पेंटिंग, जीवीपी पॉइंट एवं शहर सौंदर्यीकरण, डोर टू डोर कचरा कलेक्शन, एसएलआरएम सेंटर, कचरा सेग्रीगेशन, सैनिटेशन, एमआईएस इंट्री, डॉक्यूमेंट तैयार करना, डंपसाइट का निष्पादन एवं कम्युनिटी टॉयलेट, पब्लिक टॉयलेट, लोगों के फीडबैक पर अंक निर्धारित किया गया है। स्वच्छता की दिशा में कलेक्टर पुष्पेंद्र मीणा भी लगातार सफाई व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं। निगम प्रशासन ने ओडीएफ प्लस प्लस हासिल करने व्यापक रूप से तैयारी की थी अपर अशोक द्विवेदी, स्वास्थ्य अधिकारी धर्मेंद्र मिश्रा एवं जोन स्वास्थ्य अधिकारी सहित निगम के समस्त जोन आयुक्त एवं अधिकारी/कर्मचारियों ने ओडीएफ प्लस प्लस हासिल करने के लिए लगातार फील्ड में रहकर प्रयास किया था। इसके साथ ही पीएमयू हरीश ठाकुर, पीआईयू अभिनव ठोकने एवं शुभम पाटनी का विशेष योगदान रहा। वर्ष 2022 में भारत सरकार की सर्वेक्षण दल 4 बार निगम भिलाई क्षेत्र में ओडीएफ प्लस प्लस का परीक्षण करने पहुंचे थे उन्होने निगम क्षेत्र के 108 शौचालयों में कई सामुदायिक एवं सार्वजनिक शौचालयों के अलावा खुले में शौच वाले स्थानों, तालाब किनारे, रेलवे पटरी के किनारे, गली आदि का निरीक्षण किया था। निगम ने निरीक्षण के पूर्व शौचालयों को भारत सरकार द्वारा निर्धारित मापदण्ड के आधार पर शौचालयों में महिलाओं की विशेष समस्या को देखते हुए वेंडिंग मशीन, एन्सीनटर, एयर फ्रेशनर, एग्जास्ट फेन, सजावटी फुल पौधे, तौलिया, साबुन, मग्गा, बाल्टी, विकलांगों के लिए रैंप, क्लीनर, दर्पण, आदि सुविधा सहित सम्पूर्ण तैयारी किया था। भिलाई शहर को ओडीएफ प्लस प्लस घोषित होने में शहर की जागरूक जनता, नगर निगम भिलाई एवं बीएसपी प्रबंधन के टीम का संयुक्त रूप से कार्य करने का नतीजा प्राप्त हुआ है। स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 में पुरे देश में भिलाई को नं. 01 बनाने के लिए भी महापौर नीरज पाल, आयुक्त लोकेश चंद्राकर एवं स्वास्थ्य प्रभारी लक्ष्मी पति राजू ने शहरवासियों से अपील की है।

Related Post

Leave A Comment

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).

Chhattisgarh Aaj

Chhattisgarh Aaj News

Today News

Today News Hindi

Latest News India

Today Breaking News Headlines News
the news in hindi
Latest News, Breaking News Today
breaking news in india today live, latest news today, india news, breaking news in india today in english