ब्रेकिंग न्यूज़

 एक ऐसा अभिनेता जिसके बिना फिल्म की पुलिस टीम पूरी नहीं होती थी.... सिलवा रखी थी खुद की वर्दी
 हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री में बहुत से अभिनेता हुए हैं, जिन्होंने एक ही प्रकार का रोल कई फिल्मों में निभाया। ऐसे कलाकारों को टाइप्ड कलाकार कहा जाता था। ऐसे ही एक अभिनेता हुए हैं जगदीश राज खुराना...जिन्होंने पुलिस वाले के रोल में ऐसी जान डाली कि जब कभी किसी फिल्म में पुलिस को दिखाये जाने की बात आती तो डायरेक्टर को अभिनेता जगदीश राज खुराना की ही याद आती।  उनका नाम सबसे अधिक बार पुलिसवाले का किरदार निभाने के लिए गिनीज बुक ऑफ वल्डऱ् रिेकॉड्र्स में भी दर्ज है।
उनका एक डॉयलॉग लगभग सभी फिल्मों में सुनाई दे जाता है- 'पुलिस ने तुम्हें चारों तरफ से घेर लिया है'. भागने का और कोई रास्ता नहीं है। तुम्हारी भलाई इसी में है कि खुद को कानून के हवाले कर दो।'  बॉलीवुड की फिल्मों में मुजरिम चाहे अमिताभ बच्चन हो या देव आनंद  , एक दौर ऐसा था जब पुलिस की वर्दी में सायरन वाली जीप से अक्सर एक ही शख्स उतरता था और वो थे जगदीश राज। 
 करीब 5 दशक तक जगदीश राज ने सिनेमा की दुनिया में पुलिसवाले की भूमिका निभाई।   कभी अच्छा, तो कभी बुरा। जगदीश राज हर तरह के पुलिसवाले की भूमिका में नजर आए। सिनेमाई पर्दे पर 50 साल लंबे करियर में जगदीश राज का नाम इतना लोकप्रिय था कि फिल्म की पटकथा लिखते वक्त ही तय हो जाता था कि इस सीन में पुलिस वाले का किरदार तो जगदीश राज ही निभाएंगे। फिर चाहे देव आनंद की 'सीआईडी' हो या 'जॉनी मेरा नाम', अमिताभ बच्चन की 'डॉन' हो या 'दीवार' पुलिस की वर्दी में जगदीश राज ही नजर आए। 
 जगदीश राज का जन्म 1928 में अंग्रेजी हुकूमत के दौर में पंजाब के सरगोढ़ा में हुआ। यह अब पाकिस्तान में है। 85 साल की उम्र में जगदीश राज इस दुनिया को अलविदा कह गए। 28 जुलाई 2013 को मुंबई के जुहू इलाके में अपने घर पर उन्होंने आखिरी सांसें लीं। वह सांस में तकलीफ की बीमारी से जूझ रहे थे।
उन्होंने अपने दौर के लगभग सभी टॉप के कलाकारों के  साथ काम किया। उनकी प्रमुख फिल्में हैं-  'गैम्बलर', 'काला बाजार', 'दो चोर', 'सिलसिला', 'हम दोनों', 'नसीब', 'बोल राधा बोल', 'बेवफा सनम' सीआईडी, 12 ओ क्लॉक, कानून, वक्त, रोटी, इत्तेफ़ाक, सफर, जॉनी मेरा नाम आदि फि़ल्मों में पुलिस निरीक्षक का अभिनय मिलने के बाद इन्होंने पुलिस की वर्दी सिलवा ली थी और फि़ल्म निर्माता का फोन आते ही वर्दी के साथ शूटिंग पर पहुंच जाते थे।
  यह दिलचस्प है कि जगदीश राज खुराना का नाम जब गिनीज बुक में दर्ज करवाने के पीछे एक हॉलिवुड के कास्टिंग डायरेक्टर का हाथ है। हॉलिवुड के एक कास्टिंग डायरेक्टर ने उनकी फिल्मों की लंबी लिस्ट देखकर ही गिनीज बुक की टीम को जांच के लिए मुंबई बुलवाया था। जब नाम दर्ज हो गया तो उसके बाद उन्हें 'लोहा' और 'नाइंसाफी' फिल्म में पुलिस कमिश्नर का रोल मिला। इस पर एक्टर ने कहा था, 'चलो, इसी बहाने मेरा प्रमोशन तो हुआ।'
 जगदीश राज अपने पीछे दो बेटियां और एक बेटा बॉबी राज छोड़ गए हैं। 80 और 90 दशक की एक्ट्रेस अनिता राज, जगदीश राज की ही बेटी हैं। उनकी दूसरी बेटी का नाम रूपा मल्होत्रा हैं।  जगदीश राज ने साल 1992 में फिल्मों से संन्यास ले लिया था। जबकि उनकी आखिरी फिल्म साल 2004 में रिलीज हुई। अक्षय कुमार और श्रीदेवी की इस  फिल्म में भी जगदीश राज पुलिस वाले की भूमिका में थे। वे इस बार डीआईजी बने थे।

Related Post

Leave A Comment

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).