ब्रेकिंग न्यूज़

सकारात्मक सोच और डॉक्टरों की सलाह से कोरोना पर हासिल की जा सकती है जीत
होम आइसोलेशन में रहकर श्री बजाज ने कोविड से जीती जंग
बिलासपुर। होम आइसोलेशन में रहकर चिकित्सक की सलाह का अक्षरशः पालन करते हुए श्री पीयूष बजाज ने कोरोना के विरुद्ध जंग जीत ली है। श्री बजाज ने बताया कि वे पेशे से सॉफ्ट वेयर इंजिनियर हैं।जब उन्हें कोविड हुआ तो उन्हें  सुबह से अजीब सी थकान हो रही थी, शाम तक बुखार भी आ गया। लक्षणों से उन्हें लगा कि कोविड हुआ है, कुछ समय पहले उनके चाचा जी को भी हुआ था। उन्होंने तुरन्त एंटीजन जांच  करवाई जिसमें उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव थी। माइल्ड लक्षणों के आधार पर डॉक्टर ने उन्हें होम आइसोलेशन में ही रहकर उपचार करवाने की सलाह दी। 
श्री बजाज ने बताया कि होम आइसोलेशन के दौरान चिकित्सक उन्हें हर रोज दो बार फोन करते थे। दवाईयों के साथ ही लगातार पल्स ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन स्तर की जांच करने की सलाह भी देते थे।  श्री बजाज  घरेलू उपचार भी लेते रहे और 12 दिनों में वे पूरी तरह स्वस्थ हो गए।उनके परिजनों को भी संक्रमण हो गया था किन्तु लक्षण को पहचान कर तत्काल उपचार लिया और वे भी होम आइसोलेशन में रहते हुए स्वस्थ हो गये हैं। 
श्री बजाज का कहना है कि कोरोना से बिल्कुल से न घबरायें, लेकिन इसे गंभीरता से लेने और बहुत ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मास्क लगाना और भीड़ वाली जगहों में जाने से बचने का हरसंभव प्रयास करना चाहिये। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमित होने पर सकारात्मक सोच और चिकित्सक के लगातार सम्पर्क में रहें तो व्यक्ति शीघ्र स्वस्थ हो सकता है।

Related Post

Leave A Comment

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).