ब्रेकिंग न्यूज़

 कई बीमारियों को दूर रखता है इस भाजी का बीज... ऐसे करें इस्तेमाल
 बथुआ का सेवन स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। यह कई विटामिंस और मिनरल्स से भरपूर होता है, जो  कई बीमारियां से दूर रखने में मददगार हो सकता है। लेकिन क्या आप जानते हैं बथुआ का बीज भी स्वास्थ्य के लिए लाभकारी हो सकता है?  
बथुआ बीज के फायदे  
 आायुर्वेद में बथुआ के बीजों का इस्तेमाल किया जाता है। बथुआ के बीजों में रक्तपित्त, जोड़ों में दर्द, अनियमित पीरियड्स की समस्याओं को दूर करने के गुण होता है। इसके अलावा इससे आपको कई फायदे हो सकते हैं। आइए विस्तार से जानते हैं इसके फायदे और इस्तेमाल करने का तरीका-
 1. रक्त पित्त को करे दूर
बथुआ का इस्तेमाल रक्तपित्त को दूर करने के लिए किया जाता है। नाक-कान से खून निकलने की परेशानी से राहत पाने के लिए आप बथुआ के बीजों को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।  इससे आपको रक्त पित्त में काफी लाभ मिलेगा। 
 2. जोड़ों में दर्द से राहत
जोड़ों के दर्द को दूर करने के लिए आप बथुआ के बीजों का सेवन कर सकते हैं। इसके लिए 10 ग्राम बीजों को करीब 200 मिलिलीटर पानी में उबाल लें। इस पानी को तब तक उबालें जब तक यह 50 मिलिलीटर न रह जाए। इसके बाद गर्मागर्म इसका सेवन करें। महीने भर सुबह शाम इसका सेवन करने से जोड़ों के दर्द में लाभ मिलेगा।
 3. दांतों के दर्द से आराम
बथुआ के बीजों से  दांतों में दर्द की परेशानी को भी दूर कर सकते हैं। इसके लिए बथुआ के बीजों को भुनकर इसका चूर्ण तैयार कर लें। अब इस चूर्ण से अपने दांतों को रगड़ें। इससे दांत दर्द से छुटकारा मिलेगा। साथ ही मसूड़ों में होने वाली सूजन से भी राहत मिल सकता है। इसके अलावा बथुओ की पत्तियों को उबालकर पीने से भी दांतों के दर्द से आराम मिलता है। 
 4. अनियमित मासिक धर्म में असरकारी
पीरियड्स में अनियमितता को दूर करने के लिए बथुआ के बीजों का इस्तेमाल किया जा सकता है। पीरियड्स की अनियमितता को दूर करने के लिए   बथुआ के बीजों और सोँठ को बराबर मात्रा में मिलाकर पाउडर तैयार कर लें। फिर 400 मिलीलीटर पानी मे करीब 15-20 ग्राम पाउडर मिला कर पानी को अच्छे से उबाल लें। जब पानी 100 ग्राम रह जाए, तो इसे छानकर दिन में 2 बार इसका सेवन करें। इस नुस्खो  को आजमाने से   तुरंत लाभ मिलेगा।  
 5. लिवर के लिए फायदेमंद
लिवर की परेशानियों को दूर करने और पाचन शक्ति को बढ़ाने के लिए   बथुआ के बीजों का प्रयोग कर सकते हैं। साथ ही इससे लिवर के आस-पास की सख्ती भी दूर होती है। पीलिया की समस्या से ग्रसित होने पर छह ग्राम बथुआ के बीजों का सुबह शाम सेवन करने से पीलिया रोग से निजात मिल सकता है। 
 6. चेहरे के दाग-धब्बों को दूर
चेहरे के दाग-धब्बों को दूर करने के लिए बथुआ के बीजों का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए बथुआ के बीजों को सिल पर अच्छे से पीस लें। अब इस पेस्ट को उबटन की तरह अपने शरीर पर लगाएं। इससे शरीर पर मौजूद मैल साफ हो जाएंगे। साथ ही चेहरे के दाग-धब्बे भी दूर हो सकते हैं। 
 7. पेट के कीड़े
पेट में कीड़े हो होने पर  बथुआ के बीज का सेवन करें। खासतौर पर अगर   बच्चों को पेट में कीड़ा हो गया है, तो इसके बीजों को पीसकर इसमें थोड़ा शहद मिलाकर अपने बच्चों को चटाएं। इससे उन्हें काफी लाभ मिलेगा।  
 बथुआ के बीजों का इस्तेमाल करके आप कई परेशानियों को दूर कर सकते हैं। हालांकि, अगर आपकी परेशानी गंभीर है, तो डॉक्टर की सलाह पर ही इसका सेवन करें।

Related Post

Leave A Comment

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).