ब्रेकिंग न्यूज़

   पाचन क्रिया दुरुस्त करने के साथ ही कब्ज से भी छुटकारा दिलाता है फाइबर से भरपूर ये साग....
ठंड का मौसम आते ही सरसों का साग बड़े चाव से खाया जाता है। यह स्वाद और पोषक तत्वों से समृद्ध हरी सब्जी  है। सरसों का साग व्यक्ति को कई बीमारियों से बचाने में सहायता कर सकता है। आइये जानते हैं इसे खाने के फायदे 
कब्ज से  राहत
सरसों के साग के फायदे पाचन क्रिया को बेहतर करने के लिए भी देखे जा सकते हैं। एक वैज्ञानिक शोध में साफ तौर से बताया गया है कि सरसों के साग में अच्छी मात्रा में फाइबर मौजूद होता है, जो खाने को पचाने में मदद कर सकता है। साथ ही फाइबर पाचन क्रिया को भी बेहतर कर सकता है। वहीं कब्ज एक ऐसी स्थिति है, जिसमें मल त्याग करते समय कठिनाई होती है  । इस स्थिति से छुटकारा पाने के लिए सरसों के साग का सेवन लाभकारी हो सकता है। दरअसल, सरसों के साग में फाइबर की समृद्ध मात्रा होती है । फाइबर मल को मुलायम कर कब्ज की समस्या से छुटकारा दिला सकता है  । इस तरह कब्ज की समस्या से राहत पाने के लिए सरसों का सेवन उपयोगी हो सकता है।
  प्रतिरक्षा प्रणाली को बनाए मजबूत
शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली बीमारियों को दूर रखने में मदद करती है, इसलिए इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए सरसों के साग का सेवन कर सकते हैं। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर पब्लिश वैज्ञानिक अध्ययन में इस बात का जिक्र मिलता है कि सरसों के साग में विटामिन ए होता है, जिसमें रेटिनोइड्स शामिल हैं। यह पोषक तत्व प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत करने में मदद कर सकता है  ।
 विटामिन के
सरसों के साग के फायदे सेहत पर कई तरह से दिखाई दे सकते हैं, क्योंकि इसमें शरीर के लिए जरूरी विटामिन के मौजूद होता है। विटामिन के को क्लॉटिंग विटामिन के तौर पर भी जाना जाता है, जो ब्लड क्लॉट यानी रक्त का थक्का जमने से रोक सकता है। साथ ही यह हड्डियों को मजबूत करने में भी सहायता कर सकता है ।
 एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर
सरसों के साग का सेवन एंटीऑक्सीडेंट के लिए भी किया जा सकता है। यूनाइटेड स्टेट डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर की वेबसाइट पर पब्लिश जानकारी के मुताबिक, यह एंटी-ऑक्सीडेंट गुण से समृद्ध होता है, जो कैंसर और हृदय रोग के जोखिम को कम करने का काम कर सकता है  ।
 हृदय के लिए
सरसों के साग के फायदे हृदय पर नजर आ सकते हैं। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित शोध की मानें, तो सरसों के साग में कैरोटेनॉयड जैसे एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो हृदय रोग के खिलाफ काम कर सकते हैं  । वहीं, इसमें एंटीऑक्सीडेंट भी होते हैं, जो हृदय रोग की समस्या को पनपने से रोक सकते हैं । इस तरह हृदय को स्वस्थ रखने में सरसों उपयोगी साबित हो सकती है।
  आंखों के लिए
आंखों को स्वस्थ रखने में सरसों का साग लाभकारी हो सकता है। इससे संबंधित एक शोध में बताया गया है कि सरसों के साग में विटामिन ए, कैरोटीनॉयड और बी-कैरोटीन होता है, जो विजन हेल्थ यानी आंखों के स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकता है । इस आधार पर माना जा सकता है कि सरसों का साग आंखों पर सकारात्मक प्रभाव प्रदर्शित कर सकता है।
 मधुमेह से राहत
मधुमेह की स्थिति में सुधार करने के लिए भी सरसों के साग के फायदे हो सकते हैं। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, सरसों के साग में एंटी-डायबिटिक गुण होता है, जो हाइपरग्लाइसेमिया को कम करने और इंसुलिन सेंसिटिविटी में सुधार करने का काम कर सकता है। इससे मधुमेह के जोखिम को कम करने और डायबिटीज की स्थिति में सुधार हो सकता है  ।
 लिवर के लिए लाभकारी
सरसों का साग लिवर के लिए भी लाभकारी हो सकता है। इस संबंध में किए गए शोध में पाया गया कि सरसों के साग में एंटी ओबेसिटी गुण मौजूद होता है, जो मोटापे को कम कर लिवर स्वास्थ्य में सुधार कर सकता ह । साथ ही यह लिवर डीटॉक्सीफिकेशन का भी काम कर सकता है, जो लिवर से संबंधित समस्या को पनपने से रोक सकता है  ।

Related Post

Leave A Comment

Don’t worry ! Your email address will not be published. Required fields are marked (*).